बुलंदशहर: हाइवे गैंगरेप कांड की पीड़िता से फिर छेड़छाड़, मूकदर्शक बने रहे आसपास के लोग

0
35
बुलंदशहर

बुलंदशहर की घटना अभी परिवार ठीक से भूल भी नहीं पाया है कि शनिवार शाम को मनचलों ने पीड़िता के साथ छेड़छाड़ की घटना को अंजाम दिया। पीड़िता के पिता ने बताया कि वह शनिवार शाम करीब साढ़े पांच बजे ट्यूशन पढ़कर स्कूटी से घर लौट रही थी। रास्ते में बाइक सवार तीन युवकों ने बेटी की स्कूटी के सामने बाइक लगाकर रोक दिया। कंट्रोल रूम को सूचना देने के लिए बेटी ने मोबाइल निकाला तो आरोपी ने मोबाइल और स्कूटी से चाबी छीन ली।

पीड़िता और सहेली ने विरोध किया तो तीनों आरोपियों ने हाथ पकड़ कर अभद्रता शुरू कर दी। पीड़िता के शोर मचाने पर मौके से जा रही तीन महिलाओं ने विरोध किया तो आरोपी मोबाइल और स्कूटी की चाबी फेंककर भाग गए। एसएसपी उपेंद्र अग्रवाल ने बताया कि पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने रवि सैनी, आशु भाटी समेत एक अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है। पीड़िता का आरोप है कि तीनों युवक उनके साथ छेड़छाड़ और अभद्रता करते रहे। शोर मचाया तो सड़क किनारे दुकान लगाने वाले लोग तमाशा देख रहे थे। कोई भी मदद के लिए सामने नहीं आया।

36 घंटे बाद भी आरोपी नहीं हो सके गिरफ्तार 
पीड़िता के परिवार वालों का कहना है कि बेटी की पढ़ाई के लिए खोड़ा में पहचान छिपा कर रहे रहे हैं। घटना के 36 घंटे बाद भी पुलिस अभी तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है।  पिता के मुताबिक, बुलंदशहर में हुई घटना के बाद से उसे 24 घंटे के लिए सुरक्षा कर्मी सरकार की ओर से मुहैया कराया गया था। घर में चोरी होने के बाद खोड़ा पुलिस द्वारा रात के समय घर पर एक सिपाही को तैनात किया जाता है। दिन के समय कोई पुलिस सुरक्षा उनके पास नहीं है। पीड़ित ने बताया कि बेटी के साथ सुरक्षा होती तो ऐसी घटना नहीं होती।

बुलंदशहर हिंसा एक्सक्लूसिव : फौजी ने मारी थी को गोली, आज हो सकती है गिरफ्तारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here